Network MarketingBusinessesNews

Upline and Downline Relationship in Direct Selling, MLM में अप-लाइन का डाउन-लाइन के साथ ऐसा रिश्ता होना चाहिए

Upline and Downline Relationship in Direct Selling. आज के इस लेख में मैं आप सभी को बताऊंगा कि एक अपलाइन और डाउनलाइन के बीच रिश्ता कैसा होना चाहिए?

तो अगर अपलाइन ऐसा सोचता है कि मैं अपलाइन हूं मुझसे बड़ा कोई नहीं है तो यह बहुत ही गलत है।

क्योंकि हर एक अपलाइन को अपने डाउनलाइन के साथ बहुत ही अच्छा रिलेशन बनाकर रहना चाहिए।

एक अच्छा अपलाइन वही है जो इस बिजनेस में आने के बाद जो कुछ भी सीखा है उसको अपने डाउनलाइन को सिखाना चाहिए।

और अपलाइन को अपने डाउनलाइन के साथ एक अच्छे दोस्त बनकर रहना चाहिए।

Upline and Downline Relationship in Direct Selling-min

अपलाइन के पास हैप्पी एटीट्यूड होना चाहिए और ईगोलेस होना चाहिए।

जिसके पास यह सारे गुण हैं वह है एक बहुत ही अच्छा अपलाइन।

और अगर आपकी टीम में 4 से 5 लोगों का भी टीम है और आप उन लोगों को वैल्यू नहीं दे रहे हैं तो आप ऐसा नहीं कीजिए तो अच्छा है।

क्या पता कि जो लोग आपके टीम में आज हैं और आप उन लोगों को वैल्यू नहीं दे रहे हैं और वही लोग आगे चलकर आपसे भी बड़ा नेटवर्कर बन जाएं।

इसलिए एक अपलाइन को अपने डाउनलाइन के साथ अच्छा व्यवहार करना चाहिए यानी कि अपलाइन और डाउनलाइन के बीच एक अच्छा तालमेल होना चाहिए।

एक अपलाइन को हमेशा अपने डाउनलाइन को हेल्प करने के बारे में सोचना चाहिए।

अगर बहुत अच्छा टीम है तो वहां पर आप लीडरशिप क्रिएट कीजिए।

जब आप लीडरशिप क्रिएट करने लगेंगे तो आपका जो काम है वह काफी हद तक कम हो जाएगा।

और जहां पर आप कमजोर हैं वहां पर वर्क करना स्टार्ट कर दीजिए और जहां पर आप बहुत अच्छे से काम कर ले रहे हैं वहां पर लीडरशिप क्रिएट कीजिए।

तो सबसे पहले तो आप एक अच्छा दोस्त बनिए सबसे इंपॉर्टेंट यह है।

यह सारे गुण एक अच्छे अपलाइन में होना चाहिए अपने डाउनलाइन के प्रति।

Upline and Downline Relationship in Direct Selling.

महत्वपूर्ण बिन्दू

अब बात कर लेते हैं डाउनलाइन का व्यवहार कैसा होना चाहिए अपने अपलाइन के प्रति?

तो डाउनलाइन को सबसे पहले तो एक अच्छा स्टूडेंट बनना चाहिए कि मुझे अपने अपलाइन से वह सब कुछ सीखना है जिसके बारे में उनको पता है।

सबसे पहली बात तो हर डाउनलाइन को ध्यान में रखना चाहिए कि अपलाइन जो कुछ भी सिखा रहे हैं उसको आपको सीखना चाहिए।

अगर हर डाउनलाइन ऐसा करने लगे तो अपलाइन और डाउनलाइन के बीच बहुत ही अच्छा रिलेशनशिप क्रिएट होगा।

कभी भी डाउनलाइन को यह नहीं सोचना चाहिए कि मेरे अपलाइन मुझसे कम पढ़े लिखे हैं उनको इसके बारे में कुछ पता नहीं होगा।

ऐसा नहीं है अगर आपके अपलाइन आप से पहले आए हैं तो उनको इस बिजनेस के बारे में ज्यादा पता होगा।

आपके अपलाइन कुछ ना कुछ ज्यादा जानते हैं आपसे।

आप इस तरह का सोच कभी भी मत रखिए कि मेरे अपलाइन मुझसे कम पढ़े लिखे हैं तो उनको इस बिजनेस के बारे में कम पता होगा।

जब एक डाउनलाइन अपने अपपलाइन पर अपने आप को समर्पित कर देता है कुछ सीखने के लिए तो वह अपलाइन भी वह सब कुछ दिखाने के लिए तैयार हो जाता है अपने डाउनलाइन को और डाउनलाइन के अंदर किसी भी तरह का कोई भी ईगो भी नहीं होनी चाहिए।

तो यह सारी क्वालिटी एक अच्छे डाउनलाइन में होनी चाहिए अपने अपलाइन के प्रति।

हमेशा एक डाउनलाइन के अंदर सीखने की एटीट्यूट होना चाहिए, जब भी अपलाइन बोले मीटिंग में जाने की तो मीटिंग में जाना चाहिए।

क्योंकि जब आप हर बार मीटिंग में जाएंगे तभी कुछ नया सीख पाएंगे।

तो एक अपलाइन और डालना इन दोनों में एक अच्छा रिलेशन होना चाहिए।

और डाउनलाइन को अगर किसी भी तरह का कोई भी प्रॉब्लम फेस करना पड़ रहा है तो उसको अपने अपलाइन के साथ शेयर करना चाहिए।

जब आप अपने अपलाइन से अपने प्रॉब्लम के बारे में बताएंगे तो उस प्रॉब्लम का सलूशन देना उस अपलाइन का काम है।

आप अपने अपलाइन से कुछ बोलते नहीं हैं अपने प्रॉब्लम के बारे में, बताते नहीं हैं इसलिए वह इस पर कोई सलूशन नहीं दे पाते हैं।

बहुत सारे डाउनलाइन ऐसे भी सोचते हैं कि मेरे अपलाइन मुझे समय नहीं दे रहे हैं।

तो सबसे पहले तो आपको इस बात को समझना होगा कि आपके अपलाइन के पास भी बहुत बड़ा टीम होता है, इस वजह से वह हर किसी को ज्यादा टाइम नहीं दे पाते हैं।

तो आपको भी अपना जिम्मेदारी उठाना आना चाहिए, अगर आप जितना ज्यादा दूसरों पर डिपेंड रहेंगे उतना ही ज्यादा आपका बिजनेस लेट होगा।

अगर आप यह सोच रहे हैं कि वह ज्वाइन करवाएं हैं और वह मुझे इस बिजनेस के बारे में सब कुछ नहीं बताएंगे, मुझे टाइम नहीं देंगे तो उनका बिजनेस ग्रो नहीं करेगा।

तो अगर आप ऐसा सोच रहे हैं तोआप बिल्कुल गलत सोच रहे हैं ऐसा नहीं है, आप उनका बिजनेस तो छोड़िए खुद आपका बिजनेस भी ग्रो नहीं करेगा।

सबसे पहले तो आप अपने ऊपर डिपेंड होना सीखिए जैसे ही आप बिजनेस को ज्वाइन कर लेते हैं उसके बाद उस बिजनेस के बारे में सब कुछ जल्दी से जल्दी सीखने की कोशिश कीजिए।

आप इस बिजनेस के बारे में सीखिए, प्रोडक्ट के बारे में सीखिए ,क्लोजिंग करना सीखिए यानी कि आप उस बिजनेस के बारे में वह सब कुछ सीख लीजिए जितना आपके लीडर को पता है।

अगर आपको बिजनेस के बारे में सब कुछ अच्छे से पता रहेगा तो आप हर वक्त अपने अपलाइन को ढूढेंगे नहीं बल्कि आप खुद इस बिजनेस को कहीं से भी स्टार्ट कर देंगे।

अगर आप कस्टमर रिलेशनशिप सीखेंगे, पब्लिक स्पीकिंग सीखेंगे और कस्टमर बिहेवियर सीखेंगे ,पब्लिक रिलेशन सीखेंगे तो यह सारी चीजें नेटवर्क मार्केट में आपके लिए बहुत ही अच्छा काम करने वाला है।

मेरे द्वारा बताए गए इन सारी बातों को अगर आप सीख लेते हैं और नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस के अंदर अप्लाई करते हैं तो आपकी जो सक्सेसफुल बनने की चांस है वह 100% बढ़ जाएगी।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख (Upline and Downline Relationship in Direct Selling, MLM में अप-लाइन का डाउन-लाइन के साथ ऐसा रिश्ता होना चाहिए ) पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी (Upline and Downline Relationship in Direct Selling, MLM में अप-लाइन का डाउन-लाइन के साथ ऐसा रिश्ता होना चाहिए) के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

आप और भी ऐसे बहुत सारे लेख पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट www. पर Visit कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

admin

Kritika Parate | Blogger | YouTuber,Hello Guys, मेरा नाम Kritika Parate हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Kritika Parate जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है ।Thanks.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button