Network MarketingBusinessesNews

डायरेक्ट सेल्लिंग का बिज़नस प्लान देखने के बाद गेस्ट बोलता है की कल ज्वाइन कर लूंगा और फिर कभी फोन नहीं उठाता है

कल ज्वाइन कर लूंगा. कई बार क्या होता है कि जब आप किसी को प्लान दिखाते हैं तो वह सामने वाला व्यक्ति पहले दिन तो रेडी (तैयार) हो जाता है, लेकिन दूसरे दिन फोन ही नहीं उठाता है और कई Excuses देने लगता है, यानी कि बहाना बनाने लगता है।

और क्या होता है कि जब आप फोन करते हैं तो उस व्यक्ति का फोन बंद रहता है, या तो जब फोन लगता है तो उसके घर में फोन कोई और उठाता है और यह बोलता है कि वह घर पर नहीं है।

या कभी वह भी खुद फोन उठाता है तो यह बोलता है कि मैं बीमार हूं मैं 2 से 3 दिन बाद जॉइन करूंगा।

इन सारी बातों का एक ही मतलब है कि वह व्यक्ति सीधा-सीधा आपसे यह कहना चाह रहा है कि मैं इस बिजनेस जॉइन नहीं करूंगा।

और इसके बाद यह होता है कि वह भागता रहता है और आप उसके पीछे पड़े रहते हैं।

वह फोन पर डेट देने लगता है और आप फोन पर डेट लेते रहते हैं।

आप एक मीटिंग कैंसिल करते हैं दूसरी मीटिंग कैंसिल करते हैं और लास्ट में यह होता है कि वह व्यक्ति तो आपका फोन ही नहीं उठाता है।

तो सबसे पहले इसके पीछे के रिजन समझ लेते हैं कि आखिर कोई व्यक्ति ऐसा क्यों करता है?

डायरेक्ट सेल्लिंग का बिज़नस प्लान देखने के बाद गेस्ट बोलता है की कल ज्वाइन कर लूंगा और फिर

इसका कारण क्या है?

महत्वपूर्ण बिन्दू

कल ज्वाइन कर लूंगा

इसका पहला कारण यह है कि कोई भी व्यक्ति जब प्लान देखता है तो वह बहुत ही ज्यादा एक्साइटेड होता है मोटिवेटेड होता है।

जब वह व्यक्ति पॉजिटिव होता है तो उसके दिमाग में 4 से 5 ऐसे लोगो की चेहरा याद आता है जिनको वह व्यक्ति सोचता है कि मैं इनको प्लान दिखाऊंगा यह ज्वाइन हो जाएंगे।

और यह जो 4 से 5 लोगों के चेहरे उसके दिमाग में आते हैं उनके बारे में भी 2 पॉइंट मैं आपसे बता देता हूं।

  1. यह 4 से 5 लोग उनके बहुत ही करीब होते हैं।
  2. उनको यह पूरा विश्वास होता है कि यह 4 से 5 लोग जो हैं यह लोग इस बिजनेस को 100% ज्वाइन करेंगे।

अब क्या होता है कि जो आपका गेस्ट है वह जब प्लान देखकर निकलता है, तब सबसे पहले उसके दिमाग में यह 4 से 5 लोगों का चेहरा आता है।

और वह उनके पास फोन करता है और यह बोलता है कि एक बहुत ही अच्छी स्कीम आई है इसमें लाखों रुपया कमा सकते हो और करोड़पति बन सकते हो।

इसमें कुछ नहीं करना है मैं इस में जुड़ चुका हूं तुम भी जुड़ जाओ।

मतलब की महीने में लाखों रुपए कमाना, करोड़पति बनना और मैं जुड़ गया हूं तुम भी जुड़ जाओ।

गेस्ट की जो ट्रेनिंग है उसमें प्रॉपर तरीके से सिखाया जाता है और कितनी अलग-अलग तरीके से प्रोस्पेक्टिंग किया जा सकता है।

जैसे- अपने करीबी दोस्त को कैसे प्रोस्पेक्टिंग किया जाता है और दूर के दोस्त को कैसे किया जाता है।

बिजनेसमैन व्यक्ति को कैसे प्रोस्पेक्टिंग किया जाता है, रिश्तेदार को कैसे प्रोस्पेक्टिंग किया जाता है और दूर के रिश्तेदार को कैसे किया जाता है।

और इसके बाद ऑब्जेक्शन को हैंडल कैसे करना है यह भी सिखाया जाता है।

लेकिन यहां पर जो गेस्ट होता है उसको कोई भी ट्रेनिंग नहीं मिली होती है, क्योंकि वह तो अभी तक बिजनेस में जुड़ा ही नहीं है।

इसलिए क्या करता है कि एक कॉल करता है और उस एक ही कॉल में प्रोस्पेक्टिंग भी कर दिया और प्लान शुरू भी कर दिया और क्लोजिंग भी कर दिया।

तो आप यह खुद सोचिए कि अगर कोई व्यक्ति आपके पास कॉल करके यह बोलता है कि एक बहुत ही अच्छी स्कीम आई है इसमें लाखों रुपए कमा सकते हैं, करोड़पति बन सकते हैं, इसमें कोई भी काम नहीं करना है मैं जुड़ गया हूं तुम भी जुड़ जाओ, तो क्या आप जुड़ जाएंगे आप कभी नहीं जुड़ेंगे ।

तो यहां पर यह होता है कि वह जो पहला व्यक्ति होता है, वह उसको मुंह पर ही मना कर देता है कि मैं इसमें नहीं जुडुंगा मुझे यह काम नहीं करना है।

अब यह व्यक्ति इस बात को सोचता है कि मैं तो सोचा था 5 लोग हैं पांचों लोग ज्वाइन कर लेंगे लेकिन इसमें से पहला व्यक्ति तो मना कर दिया।

तो इसलिए इसका कॉन्फिडेंस लेवल पहले जितना नहीं रहता है अब 80% हो जाता है।

और अब यह व्यक्ति 80% कॉन्फिडेंस के साथ दूसरे के पास कॉल करता है दूसरे को भी यही बात बोलता है तो दूसरा भी व्यक्ति यह बोलता है कि मुझे यह काम नहीं करना है।

अब तो इस व्यक्ति का कॉन्फिडेंस 50% बच जाता है और इस 50% कॉन्फिडेंस के साथ यह तीसरी और चौथी व्यक्ति के पास कॉल करता है और तब यह व्यक्ति बहुत उदास होकर यह बोलते हैं कि यार मैं एक प्लान देखा हूं तो मैं यह सोच रहा हूं कि तुम भी एक बार देख लो यह काम थोड़ा अच्छा है और तुमको अच्छा लगा तो तुम भी ज्वाइन कर लेना हम दोनों मिलकर काम करेंगे।

तब यहां पर यह होता है कि 50% कॉन्फिडेंस होने की वजह से वह तीसरा और चौथा व्यक्ति भी इस को पूरी तरह से नेगेटिव कर देते हैं।

कब यह व्यक्ति निराश होकर बैठ जाता है और यह सोचने लगता है कि जिन 5 लोगों को मैं यह सोचा था कि यह लोग ज्वाइन कर लेंगे लेकिन यह लोग भी मना कर दिए मतलब यह बिजनेस नहीं हो पाएगा।

और यह व्यक्ति यह सोचने लगता है कि जो मेरे सबसे क्लोज दोस्त थे वही नहीं कर रहै हैं तो दूसरा कोई क्या करेगा ।

तब उसके दिमाग में डबल माइंड स्टार्ट हो जाता है और यहां पर इन 5 में से अगर एक भी नेगेटिव आदमी मिल गया तो उसको 2 घंटा बैठा कर यह समझाएगा की मेरा एक दोस्त था वह इस बिजनेस को जॉइन किया था, नेटवर्क में यह होता है, वह होता है।

लोग टाइ पहन कर आते हैं और सब कुछ समझाते हैं सेमिनार का सीडी दिखाता है, इतना भयंकर उसका माइंड सेट कर देता है कि फिर वह व्यक्ति उसका फोन ही नहीं उठाता है।

तो यह समस्याएं क्या-क्या होता है और कैसे होता है यह सब मैं बताया हूं। अब इसका सलूशन क्या है यह समझ लेते हैं।

Technique 1

जब आपका गेस्ट आपके सामने बैठा हो तो उसी वक्त उसको ज्वाइन कराना है यह आको सीखना पड़ेगा।

YOU HAVE To become master in the basics

अगर आपको एक बहुत बड़ा बिजनेसमैन बनना है तो लोगों को जोड़ने में और लोगों को डुप्लीकेट करने में आपको मास्टर बनना पड़ेगा।

यह बहुत ही ज्यादा जरूरी है और यह काम आप फील्ड से ही सीख सकते हैं।

BASIC

लिस्ट बनाइए और प्रोस्पेक्टिंग कीजिए और प्लान दिखाकर ज्वाइन करिए।

प्लान दिखाने की यह 3 ट्रेनिंग है

3 steps

1. प्लान की beginning कैसे करना है?

आखिर शुरुआत कैसे करें कि लोग प्लान देखने के लिए पागल हो जाए।

2. Information

मतलब कि आपकी जो पूरा इंफॉर्मेशन है आपकी कंपनी क्या है, प्रोडक्ट क्या है ,पेआउट कैसे मिलेगा यह सब कुछ ।

3. Closing

यह जो क्लोजिंग है, यही फॉलो अप है। क्योंकि कोई भी व्यक्ति जब प्लान देखता है तो उस वक्त उसको ज्वाइन होने की सबसे ज्यादा चांस होता है।

जब कोई व्यक्ति आपके सामने बैठा हो उस दिन नहीं करा सकते हैं तो तीसरी चौथे दिन आप क्या ज्वाइन कराएंगे आप कोशिश कीजिए कि उसी दिन उस व्यक्ति को ज्वाइन करा ले।

लेकिन ज्यादातर केस में यह होता है कि कोई व्यक्ति उसी वक्त ज्वाइन नहीं करते हैं और वह बोलते हैं कि मैं कल या परसों जॉइन करूंगा।

तो यहां पर आप फॉलो कर सकते हैं और उसके बाद भी अगर दूसरे दिन की ऑप्शन आए तो आपको क्या करना है?

यहां पर आप उसको प्रोटेक्ट कीजिए आप उनसे यह बोलिए की कोई बात नहीं, आप कल सुबह हमारे साथ स्टार्ट कीजिए।

जैसे कि हम सुबह में 8:00 बजे ही आपके पास कॉल करेंगे और हम दोनों इस बिजनेस को स्टार्ट करेंगे।

आप उनसे यह बोलिए कि जब मैं भी आपकी तरह ही पहली बार प्लान को देखा था तो उस टाइम मैं यह सोचा था कि मैं कल ज्वाइन कर लूंगा, लेकिन वह मैं अपनी जिंदगी का बहुत ही बड़ा गलत फैसला लिया था।

पर उस फैसले से हमारे जिंदगी में बहुत ही बड़ा नुकसान हुआ और मैं यह नहीं चाहता हूं कि आप भी यह गलती करें ।

और वह गलतियां है कि दुकान खोलने से पहले ग्राहक ढूंढना।

मतलब मैं क्या किया कि ज्वाइन होने से पहले ही कुछ लोगों को अप्रोच कर दिया और इससे क्या हुआ कि मुझे इस बिजनेस के बारे में ज्ञान नहीं था।

क्योंकि मैं इस बिजनेस को किया ही नहीं था सिर्फ प्लान देखा था।

तो मेरे साथ होता क्या था कि जब मुझसे कोई व्यक्ति इस कंपनी के बारे में, बिजनेस के बारे में प्रोडक्ट के बारे में, पूछता था तो मुझे इसका कोई ज्ञान नहीं था और यह हुआ कि उल्टा वह लोग मुझे बहुत कुछ समझा दिया और मेरा दिमाग नेगेटिविटी से भर गया और मैं इस बिजनेस को ज्वाइन करने का फैसला को बदल दिया।

और 1 महीने तक मैं उस व्यक्ति का फोन नहीं उठाया जो व्यक्ति मुझे प्लान दिखाया था और 1 महीना बाद वह व्यक्ति मेरे घर आए और मुझे समझाने लगे तब मुझे यह समझ में आया कि जो मेरे सवाल थे उसका जवाब है, लेकिन उस वक्त मेरे पास नहीं थे।

क्योंकि उससे पहले मुझे कोई ट्रेनिग नहीं मिली थी तो इस गलती से मेरा 2 नुकसान हुआ।

  1. पहला नुकसान यह हुआ कि जो लोग जुड़ सकते थे उन लोगों को मैं अधूरे नॉलेज की वजह से जोड़ नहीं पाया
  2. दूसरा नुकसान मेरा यह हुआ कि मेरा पूरा 1 महीना खराब हो गया मैं अपने सपने से 1 महीने पीछे चला गया।

और जो मेरे सपने 1 महीना पहले पूरे हो सकते थे वह मेरे सपने 1 महीने पीछे चला गया।

अगर आज मैं इस बिजनेस को ज्वाइन कर लिया होता तो मैं अपने सपनो की तरफ एक महीना पहले ही पहुंच जाता ।

तो यह गलती आप मत कीजिएगा, यह बातें आपको समझाना बहुत ज्यादा जरूरी है।

Technique 2

आप उनको यह समझा सकते हैं की मैं आपको 100% समझाने की कोशिश किया हूँ, लेकिन मैं भी एक इंसान हूं हमारी भी कैपेसिटी है मैं आपको 80% समझा पाया हूं।

और उसमें से आपको सिर्फ 40% याद रहा होगा और जब आप भी किसी और को समझाओगे तो उसको भी सिर्फ 20% ही समझा पाओगे, और उसको भी सिर्फ 5% ही याद रहेगा।

जो मैं आपको पिछले 1 घंटे से समझा रहा हूं उसको अगर आप समझायेंगे तो 5 मिनट से ज्यादा आप नहीं समझा पाएंगे।

अब इसका मतलब यह नहीं है कि मैं बहुत इंटेलिजेंट हूं और आप नहीं है ऐसा कोई बात नहीं है, बात यह है की मैं इसकी ट्रेनिंग लिया हूं।

और आप अभी इसकी ट्रेनिंग नहीं लिए हैं इसीलिए जब तक आपको ट्रेनिंग नहीं मिलती तब तक आपको किसी से बात करने की जरूरत नहीं है और आपको अकेले कोई काम नहीं करना है।

शुरू में मैं आपके साथ काम करूंगा और जब तक आपको यह काम पूरी तरह से नहीं आ जाता तब तक हम लोग इस काम को मिलकर करेंगे।

इसलिए अभी आपको किसी से बात करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आप अच्छे से उसको समझा नहीं पाएंगे।

Technique 3

यह टेक्निक बहुत ही खास है इसको आपको बहुत ही ध्यान से समझना होगा।

आप उनको किसी स्टोरी के माध्यम से भी समझा सकते हैं जैसे कि आप किसी गांव के किसी व्यक्ति का नाम लेकर उसको समझा सकते हैं।

कि एक व्यक्ति था और उसके पास एक गधा था और वह गधा जब बीमार हो गया तो वह व्यक्ति डॉक्टर के पास गया और डॉक्टर से यह बोला कि डॉक्टर साहब मेरा गधा बीमार पड़ गया है।

उसे बचा लो, तो डॉक्टर साहब उसको दवा दे देते हैं और कहते हैं कि जाओ यह दवा अपने गधा को खिला देना तुम्हारा गधा बिल्कुल ठीक हो जाएगा।

फिर 1 घंटे बाद वह व्यक्ति डॉक्टर साहब के पास आता है और डॉक्टर साहब से यह बोलता है कि मेरा गधा बहुत ही अच्छा है ,बहुत ही प्यारा है वह दवा नहीं खा रहा है।

आप मुझे कोई उपाय बताइए कि वह दवा कैसे खाएगा?

तब डॉक्टर साहब उसको एक पाइप देते हैं और यह समझाते हैं कि इस पाइप में तुम आगे की तरफ एक दवा की गोली रखना और गधा कि मुंह में इस पाइप को डालना और पीछे की तरफ से फूंक मारना यह दवा बहुत ही आसानी से गधा के मुंह में चला जाएगा, और तुम्हारा गधा दवा खाकर बिल्कुल अच्छा हो जाएगा।

फिर क्या हुआ कि वह व्यक्ति 1 घंटा बाद फिर डॉक्टर साहब के पास आया और बोलने लगा डॉक्टर साहब आप मेरे गधे को बचा लीजिए।

फिर डॉक्टर बोले अब क्या हुआ तो वह व्यक्ति बताने लगा कि जैसे आपने बताया था वैसे ही मैं किया घर गया और पाइप की अगले हिस्सा में दवा को रखा और गधे के मुंह में डाल दिया और पीछे से फूंक मारने वाला ही था तब तक गधा फूंक मार दिया और दवा सीधे मेरे पेट में चला गया।

इस स्टोरी का यही मतलब है कि बहुत लोग यह गलती करते हैं की जब वह गेस्ट हो को समझाने जाते हैं तो उल्टा गेस्ट उन्हीं को समझा देते हैं।

क्योंकि वह खुद Trained नहीं हैं। जैसे कि आज आप प्लान देखकर जा रहे हैं और प्लान देखने के बाद जो 10 लोग यह बोलते हैं कि मैं कल ज्वाइन कर लूंगा तो उस 10 लोगों में से 5 लोग ही ज्वाइन करते हैं।

और जो बचे हुए 5 लोग हैं उनके पास जब फोन किया जाता है तो उनका फोन ऑफ रहता है।

या फोन जाता भी है तो वह उठाते नहीं हैं ।

या वह फोन उठाकर घर में किसी और को दे देते हैं और बोल देते हैं कि तुम बोल दो वह घर पर नहीं हैं या तो वह खुद फोन उठाकर बोलेंगे कि मैं बीमार हूं कुछ दिन बाद ज्वाइन कर लूंगा।

या कहेंगे कि मैं कहीं बाहर आया हूं कुछ दिन बाद जॉइन करूंगा।

इन सारी बातों का एक ही मतलब है कि जैसे गधा ने फूंक मार दिया।

जो लोग ज्वाइन हो जाते हैं उनसे आप यह बोलिये की तो कल सुबह मैं आपको 8:00 बजे कॉल करूंगा और मैं अपनी सिस्टम से काम करता हूं, दूसरे लोग कैसे काम करते हैं वह हमको नहीं पता।

लेकिन हमारा खुद एक सिस्टम है जो मैं अपने सिस्टम से काम करता हूं, मैं किसी को जबरदस्ती ज्वाइन नहीं कराता हूं।

अगर आप कल सुबह 8:00 बजे फोन नहीं उठाएंगे तो फिर मैं दोबारा आपके पास कॉल नहीं करूंगा मैं किसी और को ज्वाइन कर लूंगा लेकिन आप यह समझ लीजिए की आपके हाथ से दुनिया की सबसे बेस्ट अपॉर्चुनिटी मिस हो जाएगी।

इस प्रकार से प्रोटेक्शन करना बहुत जरूरी है अगर आप इस प्रकार से प्रोटेक्ट करेंगे तो जो 10 लोग प्लान देकर जा रहे हैं उसमें से जो 5 से 6 लोग फोन नहीं उठा रहे हैं उसके मुकाबले ऐसे करने पर 2 या 3 ही व्यक्ति फोन नहीं उठाएंगे।

कुछ लोग यहां पर कन्वर्ट होंगे क्योंकि आप उनको मेंटली प्रिपेयर कर दिया है यही इसका सलूशन है आप इसको अप्लाई करेंगे तो आपको100% फायदा होगा।

यदि आप सभी को आज का हमारा यह लेख “डायरेक्ट सेल्लिंग का बिज़नस प्लान देखने के बाद गेस्ट बोलता है की कल ज्वाइन कर लूंगा और फिर कभी फोन नहीं उठाता है” पसंद आया हो तो कृपया करके आप सभी हमारे इस लेख को अपने टीम के हर मेंबर के साथ जरूर शेयर करें।

ताकि वह सभी लोग भी “डायरेक्ट सेल्लिंग का बिज़नस प्लान देखने के बाद गेस्ट बोलता है की कल ज्वाइन कर लूंगा और फिर कभी फोन नहीं उठाता है” के बारे में समझ सके और दूसरों को समझा सके।

इसे भी पढ़ें

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

admin

Kritika Parate | Blogger | YouTuber,Hello Guys, मेरा नाम Kritika Parate हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Kritika Parate जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है ।Thanks.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button