Sports

भारतीय महिला हॉकी टीम ने जापान को 2-1 से हराकर कांस्य पदक जीता

डिजिटल डेस्क, हांगझोउ। भारतीय महिला हॉकी टीम ने शनिवार को जापान पर 2-1 से शानदार जीत दर्ज कर 19वें एशियाई खेल हांगझोउ 2022 में कांस्य पदक जीता। एशियाई खेलों में महिला फील्ड हॉकी में यह भारत का चौथा कांस्य पदक है। भारतीय टीम के लिए दीपिका (5′) और सुशीला चानू पुखरंबम (50′) ने एक-एक गोल किया, जबकि जापान के लिए कप्तान यूरी नागाई (30′) ने एकमात्र गोल किया।

उनके प्रभावशाली प्रदर्शन और पोडियम फिनिश के लिए, हॉकी इंडिया ने भारतीय महिला हॉकी टीम के प्रत्येक खिलाड़ी को 3.00 लाख रुपये और प्रत्येक सहयोगी स्टाफ को 1.50 लाख रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की।

मैच की शुरुआत जापान ने गेंद पर कब्ज़ा करने को प्राथमिकता देते हुए की, जबकि भारत तुरंत आक्रामक हो गया। इस आक्रामक रवैये का फायदा उन्हें मिला क्योंकि उन्हें पेनल्टी स्ट्रोक मिला, जिसे दीपिका (5′) ने कुशलतापूर्वक गोल में बदल दिया और इस तरह उनकी टीम को शुरुआती बढ़त मिल गई। भारत पहले 15 मिनट के भीतर तीन पेनल्टी कॉर्नर हासिल करने में भी कामयाब रहा, लेकिन दुर्भाग्य से, वे उनका फायदा नहीं उठा सके। पहला क्वार्टर समाप्त होने तक भारत ने 1-0 की बढ़त बना ली।

दूसरे क्वार्टर में जापान ने बराबरी हासिल करने के लिए अपने हमलों की संख्या बढ़ा दी, जबकि भारत ने जापान पर दबाव बनाए रखने के लिए अपना ध्यान कब्ज़ा बनाए रखने और जवाबी हमले पर केंद्रित कर दिया। हालांकि भारत की रणनीति कुछ हद तक काम कर गई, लेकिन यह जापान ही था जो किसी तरह अपने कप्तान यूरी नागाई (30′) के साथ दूसरे क्वार्टर के अंतिम सेकंड में पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करके अपनी टीम को बराबरी पर लाने में कामयाब रहा।

दूसरे क्वार्टर के दौरान, जापान ने बराबरी की तलाश में अपने आक्रामक प्रयास तेज कर दिए। इस बीच, भारत ने जापान पर दबाव बनाए रखने के लिए बॉल रिटेंशन को प्राथमिकता देकर और जवाबी हमले शुरू करके अपने दृष्टिकोण को समायोजित किया। भारत की रणनीति ने कुछ प्रभाव दिखाया, लेकिन वह जापान की कप्तान, यूरी नागाई (30′) थे, जो दूसरे क्वार्टर के आखिरी सेकंड में पेनल्टी कॉर्नर से महत्वपूर्ण गोल करके अपनी टीम के लिए वापसी करने में सफल रही। मध्यांतर तक स्कोर 1-1 से बराबर रहा।

बराबरी का गोल करने के बाद आत्मविश्वास से लबरेज जापान ने तीसरे क्वार्टर में जोरदार प्रदर्शन किया, लेकिन भारतीय टीम न केवल हमले को नाकाम करने के लिए रक्षा में मजबूत रही, बल्कि अपने विरोधियों पर दबाव बनाने के लिए नियमित अंतराल पर जापान की रक्षा की जांच भी करती रही।

बराबरी से मिले आत्मविश्वास से उत्साहित जापान ने तीसरे क्वार्टर में लगातार आक्रामक हमला बोला। हालाँकि, भारतीय टीम ने जापान के हमलों को विफल करने के लिए न केवल जबरदस्त रक्षात्मक कौशल का प्रदर्शन किया, बल्कि अपने विरोधियों पर दबाव बनाने के लिए जापान की रक्षा का लगातार परीक्षण भी किया। हालाँकि, दोनों टीमों में से कोई भी गोल करने में सफल नहीं हो पाई क्योंकि तीसरे क्वार्टर के अंत तक स्कोर 1-1 से बराबर रहा।

मैच में बढ़त लेने के लिए बेताब भारत ने चौथे क्वार्टर में आक्रामक शुरुआत की और शुरुआती पेनल्टी कॉर्नर भी हासिल किया लेकिन उप कप्तान दीप ग्रेस एक्का के शॉट को जापान की गोलकीपर ईका नाकामुरा ने बचा लिया। हालाँकि, भारतीय टीम ने लगातार आक्रमण करके जापान पर दबाव बनाए रखा और इसका फायदा उसे तब मिला जब भारत पेनल्टी कॉर्नर हासिल करने के बाद शानदार बदलाव के साथ आया और सुशीला चानू पुखरामबम (50′) ने बड़ी चतुराई से गेंद को गोल के अंदर डाल दिया। दीप ग्रेस एक्का के पास ने भारत को 2-1 की बढ़त दिला दी।

बढ़त लेने के बावजूद भारतीय टीम ने आक्रामक खेल जारी रखा और इससे उन्हें लगातार पेनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन वे इसका फायदा नहीं उठा सके। इस बीच, जापान ने बराबरी की तलाश में जवाबी हमला करना शुरू कर दिया, लेकिन भारतीय टीम ने अपने विरोधियों को वापसी करने का कोई मौका नहीं दिया और 2-1 से मैच जीत लिया।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप टिर्की और महासचिव भोला नाथ सिंह ने भारतीय टीम को उनकी शानदार जीत के लिए बधाई दी।

(आईएएनएस)

अस्वीकरण: यह न्यूज़ ऑटो फ़ीड्स द्वारा स्वतः प्रकाशित हुई खबर है। इस न्यूज़ में networkmarketinghindi.in टीम के द्वारा किसी भी तरह का कोई बदलाव या परिवर्तन (एडिटिंग) नहीं किया गया है| इस न्यूज की एवं न्यूज में उपयोग में ली गई सामग्रियों की सम्पूर्ण जवाबदारी केवल और केवल न्यूज़ एजेंसी की है एवं इस न्यूज में दी गई जानकारी का उपयोग करने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञों (वकील / इंजीनियर / ज्योतिष / वास्तुशास्त्री / डॉक्टर / न्यूज़ एजेंसी / अन्य विषय एक्सपर्ट) की सलाह जरूर लें। अतः संबंधित खबर एवं उपयोग में लिए गए टेक्स्ट मैटर, फोटो, विडियो एवं ऑडिओ को लेकर networkmarketinghindi.in न्यूज पोर्टल की कोई भी जिम्मेदारी नहीं है|

admin

Kritika Parate | Blogger | YouTuber, Hello Guys, मेरा नाम Kritika Parate हैं । मैं एक ब्लॉगर और youtuber हूं । मेरा दो YouTube चैनल है । एक Kritika Parate जिस पर एक लाख से अधिक सब्सक्राइबर हैं और दूसरा AG Digital World यह मेरा एक नया चैनल है जिस पर मैं लोगों को ब्लॉगिंग और यूट्यूब के बारे में सिखाता हूं, कि कैसे कोई व्यक्ति जीरो से शुरुआत करके एक अच्छा खासा यूट्यूब चैनल और वेबसाइट बना सकता है । Thanks.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button